-->
चिरैया थाने पर हमले में 42 लोगों की गिरफ्तारी, बाज़ार में छाया रहा सन्नाटा

चिरैया थाने पर हमले में 42 लोगों की गिरफ्तारी, बाज़ार में छाया रहा सन्नाटा

43 arrested in Chiraiya
चिरैया (Chiraiya): चिरैया थाना पर हुए हमले के मामले में पुलिस ने उपद्रवियों को चिन्हित कर अब तक 42 लोगों को गिरफ्तार किया है। उपद्रवियों की गिरफ्तारी के बाद चिरैया में सन्नाटा है। पुलिस के गिरफ्तारी के भय से लोग घरों में दुबके रहे।


वहीं स्थिति की गंभिरता को देख डीएम एसके अशोक ने चिरैया थाना एवं पीएचसी पर पहुंच कर स्थिति का जायजा लिया। डीएम ने पीएचसी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को तोड़फोड़ में हुए नुकसान की लिस्ट बना कर नामजद प्राथमिका दर्ज कराने का निर्देश दिया। वहीं एहतियात के तौर पर पुलिस गश्त के साथ अलर्ट रहने को कहा। वही चिरैया व गोखुला गांव के सभी युवक घर छोड़ फरार हो गए हैं।


जबकि बच्चे-बूढ़े दिन भर अपने घरों में दुबके रहे। वही व्यवसायियों ने स्वतः स्फूर्त अपनी दुकानों को बंद कर दिया। जिसके कारण चिरैया में दिन भर कर्फ्यू सा नजारा रहा। सड़कों पर वीरानगी रही। केवल बाहरी गाड़ियों को छोड़कर बाजार में कोई भी वाहन सड़क पर नही दिखी। लोगों के चेहरे पर स्पष्ट खौफ दिख रहा था। लोगों को इस बात का भय सत्ता रहा है कि पुलिस उसे गिरफ्तार तो नही कर लेगी।


बता दें कि रविवार को मीरपुर के समीप अज्ञात वाहन की ठोकर से गोकुला गांव के दीपक कुमार गम्भीर रूप से घायल हो गए। जिसे पीएचसी ले जाया गया जहां उसकी मौत हो गई। गुस्साए लोगों ने अस्पताल में तोड़फोड़ के बाद थाने में भी उपद्रव मचाया । जहां कई गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया। थाना प्रभारी सहित पुलिस को आत्मरक्षार्थ हवा में कई राउंड गोली भी चलानी पड़ी। हालांकि पुलिस ने फायरिंग से इनकार किया है। वही मौके पर पहुँचे एसएसबी के जवानों ने मोर्चा संभाला । तब जाकर स्थिति नियंत्रीत हुई।


पूर्व विधायक लक्ष्मी नारायण यादव व राजद के प्रदेश महा सचिव बच्चा यादव ने थाने पर हमला करने के घटना की घोर निंदा किया है। घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए इन नेताओं ने जिला प्रशासन से निर्दोष व्यक्तियों को परेशान नही करने तथा दोषियों को किसी भी सूरत में नही बख्शने का अनुरोध किया है।


इन लोगों ने कहा है कि घटना के पीछे जिन शरारती तत्वों का हाथ है। उसकी पहचान कर कार्रवाई होनी चाहिए। ताकि ऐसी घटना की पुनरावृत्ति नही हो सके। क्योंकि इस घटना से चिरैया की प्रतिष्ठा घटी है। इन नेताओं ने मृतक के परिजनों को दस लाख रूपये मुआवजा देने की मांग किया है।


चिरैया थाने पर हमले की न्यूज़ यहां पढ़ें


न्यूज़ डेस्क




0 Response to "चिरैया थाने पर हमले में 42 लोगों की गिरफ्तारी, बाज़ार में छाया रहा सन्नाटा"

टिप्पणी पोस्ट करें

आप अपना सुझाव यहाँ लिखे!

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article