-->
हुए समझौते पर अमल नही किया गया तो आंदोलन फिर से शुरू किया जाएगा

हुए समझौते पर अमल नही किया गया तो आंदोलन फिर से शुरू किया जाएगा

हुए समझौते पर अमल नही किया गया तो आंदोलन फिर से शुरू किया जाएगा
Keshariya (केसरिया): (संसू)प्रखंड परिसर में अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के द्वारा मठिया पंचायत किसान कमिटी के बैनर तले चल रहा अनिश्चितकालीन धरना अपर एसडीओ चकिया के हस्तक्षेप से स्थगित किया गया। 

अखिल भारतीय किसान काउंसलिंग के पूर्वी चम्पारण के जिला मंत्री के नेतृत्व में पांच सदस्यिए प्रतिनिधी मंडल से  अपर एसडीओ चकिया के नेतृत्व में प्रखंड विकास
पदाधिकारी,अंचलाधिकारी,
मनरेगा कार्यक्रम पदाधिकारी,कृषि पदाधिकारी ने वार्तालाप किया। 

बाढ़ राहत राशि भूगतान के लिए बनाये गये सूची में छूटे हूए लोगो का नाम जोडने के लिए पूनः पंचायत में शिक्षको को नियुक्त किया गया। 

फसल क्षति मुआवजा के लिए कृषि पदाधिकारी ने अपना रिपोर्ट सार्वजनिक किया। अभी कोरेंटाइन सेंटरो पर तैनात नोडल पदाधिकारियो ने अपना रिपोर्ट नहीं सौपा है ।सार्वजनिक करने के लिए एक सप्ताह का  लिखित अश्वासन के बाद समय लिया। 

खाद्ध आपूर्ति विभाग से जूड़े मांग का जबाब देने के लिए एसडीओ,बिडिओ अंचलाधिकारी और केसरिया थाना प्रभारी के बार बार फोन करने पर भी प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी उपल्ब्ध नही हो पाये। 

एम ओ के आचरण से क्षूब्ध एसडीओ ने लिखित समझौता कर एक सप्ताह के अंदर करोना काल मे सभी तरह के आबंटित खद्धान्नो का जांच करवाने, पीलाकार्डधारियो को खद्धान्न दिलवाने,वंचितो को कार्ड उपलब्ध करवाने का लिखित अश्वासन दिया है। अगर एक सप्ताह के अंदर हुए समझौते पर अमल नही किया गया तो आंदोलन फिर से शुरू किया  जायेगा।  

मौके पे मौजूद लोग गया प्रसाद, बिनोद प्रसाद,हरिशंकर पासवान, राकेश कूमार सिंह, बूनीलाल दास, राजेन्द्र सिह, रामानंद मुखिया ,ध्रूव चौरसिया, शिवगूलाम महतो,टूनटून साह नारायण किसोर, जनार्दन सिंह, बीरेन्द्र किशोर राय, चन्द्र किशोर, लालबाबू चौधूर इत्यादि उपस्थित थे।

केसरिया से दीनानाथ पाठक की रिपोर्ट






0 Response to "हुए समझौते पर अमल नही किया गया तो आंदोलन फिर से शुरू किया जाएगा"

टिप्पणी पोस्ट करें

आप अपना सुझाव यहाँ लिखे!

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article