-->
बड़ी खबर : बिहार में नहीं बढ़ा लॉकडाउन, 10 सेवाओं पर रहेगी पाबंदी, जानिए अनलॉक में क्या खुलेगा और क्या बंद रहेगा

बड़ी खबर : बिहार में नहीं बढ़ा लॉकडाउन, 10 सेवाओं पर रहेगी पाबंदी, जानिए अनलॉक में क्या खुलेगा और क्या बंद रहेगा

Nitish Kumar
 पटना (PATNA): बिहार में आज लॉकडाउन का अंतिम दिन है। राज्य सरकार की ओर से लॉकडाउन को बढ़ाने का कोई भी फैसला नहीं लिया गया। यानी कि कल 17 अगस्त से बिहार में भी अनलॉक थ्री लागू रहेगा। लेकिन इसके बावजूद भी राज्य में 10 सेवाएं प्रतिबंधित रहेंगी। जिसके बारे में जानना बहुत जरूरी है। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए लोगों को खुद भी काफी एहतियात बरतने की जरूरत है।बआइये जानते वो कौन सी 10 सेवाएं हैं, जिन्हें फलहाल सरकार ने प्रतिबंधित रखा है।

नीतीश सरकार ने बिहार में लॉकडाउन को आगे बढ़ाने का फैसला नहीं किया है। 31 जुलाई से 16 अगस्त तक पूरे बिहार में लॉकडाउन लागू था, जो आज खत्म होने वाला है। राज्‍य सरकार कंटेनमेंटजोन में लॉकडाउन को सख्‍ती को लागू हुए। कल सोमवार यानी कि 17 अगस्त से बिहार में भी अनलॉक थ्री रहेगा। ऐसे में लोग ये जानने को उत्सुक हैं कि आखिर अनलॉक थ्री में किन सेवाओं को प्रतिबंधित रखा गया है।

रविवार को बिहार में 2187 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इसके साथ ही कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,04,093 हो गई है।  पिछले 24 घंटे के भीतर 15 लोगों की मौत हुई है। इसके साथ ही राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या बढ़कर 537 हो गई है। 24 घंटे के अंदर बिहार में कुल 67,212 टेस्ट सैंपल की जांच की गई है। इसके साथ राज्य में जांच का कुल आंकड़ा 1679462 जा पहुंचा है। बिहार में अब तक 72566 मरीज कोरोना से ठीक हो चुके हैं। रिकवरी रेशियो 69.71 फ़ीसदी है जबकि अभी भी 35,056 एक्टिव केस मौजूद हैं।

लॉकडाउन हटने के बाद बिहार में दुकानों को खोलने के समय में पूरी छूट दी गई है। जरूरी सामान को छोड़कर पहले सुबह 10 से शाम 6 बजे तक दुकानों को खोलने की इजाजत थी। जिसे अब सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते हुए खोला जा सकता है। सरकार की ओर से जारी गाइडलाइंस का दुकानों में ख़ास ख्याल रखना होगा। वरना जिला प्रशासन कठोर कार्रवाई करेगी।

न्यूज़ डेस्क




0 Response to "बड़ी खबर : बिहार में नहीं बढ़ा लॉकडाउन, 10 सेवाओं पर रहेगी पाबंदी, जानिए अनलॉक में क्या खुलेगा और क्या बंद रहेगा"

टिप्पणी पोस्ट करें

आप अपना सुझाव यहाँ लिखे!

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article