-->
नेहरू युवा केन्द्र मोतिहारी के त्वावधान में जिले के सभी प्रखंडों में राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में मनाया जा रहा है सितंबर

नेहरू युवा केन्द्र मोतिहारी के त्वावधान में जिले के सभी प्रखंडों में राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में मनाया जा रहा है सितंबर

Nehru kendra Motihari

चकिया (Chakia): युवा खेल मंत्रालय के अधीनस्थ नेहरू युवा केन्द्र  मोतिहारी के त्वावधान में  जिलों के सभी प्रखंडों में सितम्बर राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में मनाया जा रहा है।इस पोषण माह जागरूकता अभियान का आयोजन नेहरू युवा केंद्र कल्याणपुर प्रखंड के राष्ट्रीय स्वयंसेवक सुश्री श्वेता सिंह के नेतृत्व में किया गया। 

सुश्री श्वेता सिंह ने घर-घर जाकर ग्रामीणों को कुपोषण के कारण, लक्षण और इससे निवारण की परिचर्चा की। उन्होने ग्रामीणों को जागरूक  करते हुए कहा कि यह पोषण अभियान कार्यक्रम न होकर एक जन आंदोलन और भागीदारी है। इस पोषण अभियान की अभिकल्पना राष्ट्रीय पोषण रणनीति के तहत् की गई हैं। इस रणनीति का उद्देश्य 2022 तक कुपोषण मुक्त भारत का निर्माण हैं। इस माह में हर व्यक्ति,संस्थान और प्रतिनिधि को अपनी जिम्मेदारी भारत को कुपोषण मुक्त भारत बनाने में निभानी चाहिए।        

उन्होंने  खासकर महिलाओ को कुपोषण के बारे में बताते हुए कहा कि कुपोषण प्राय: पर्याप्त संतुलित आहार के अभाव में होता है।यह एक ऐसा रोग है जिसके कारण शरीर का संपूर्ण विकास ना होना, शारीरिक और मानसिक विकलांगता, जी आई ट्रैक्ट संक्रमण ,एनीमिया और यहां तक की मृत्यु भी हो सकती हैं। 

इससे बचने के लिए रोजाना आयरन, विटामिन, कैलशियम युक्त आहार ,हरी पत्तेदार  साग-सब्जी , साबूत अनाज, सलाद ,अंडा ,दूध,आयोडीन युक्त नमक इत्यादि का सेवन करना चाहिए। खासकर गर्ववती महिलाओं को इन सारी बातों पर ध्यान देने की आवश्यकता है।इस दिशा में हम प्रत्येक जन अपनी अहम भूमिका  निभाए  तथा कुपोषण को दूर करते हुए एक स्वस्थ और मजबूत देश की नींव रखे।

चकिया से अमितेश कुमार रवि की रिपोर्ट




Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article