-->
थाने में देवर ने अपनी भाभी की मांग भर रचाई शादी

थाने में देवर ने अपनी भाभी की मांग भर रचाई शादी

 

थाने में देवर ने अपनी भाभी की मांग भर रचाई शादी

सीतामढ़ी (Sitamadhi):   लॉक डॉउन  में जहां शादी समारोहों से लोग परहेज कर रहे हैं वहीं गुरुवार को महिला थाने में एक अनोखी शादी हुई। देवर ने विधवा भाभी से शादी रचाई। थाना परिसर में शिवजी के मंदिर में दोनों ने सात फेरे लिए। पंडित जी ने विधि-विधान से ब्याह संपन्न कराया। बराती के साथ पुलिसकर्मी भी इस शादी में शरीक हुए। सभी लोगों ने वर-वधु को आशीर्वाद दिया।


महिला थाना प्रभारी मालती कुमारी की पहल पर देवर इस महिला ने शादी रचाने को राजी हुआ। बड़े भाई की बिजली करंट से एकसाल पूर्व मौत के बाद देवर व भौजाई एक-दूसरे के साथ रह रहे थे। मगर, शादी के नाम पर देवर कन्नी काटने लगा तो महिला ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। गांव वाले भी महिला के साथ खड़े हो गए। महिला थाना प्रभारी ने मामले में हस्तक्षेप कर देवर को शादी के लिए रजमांद किया।


आखिरकार, थाने में ही शादी की रस्में पूरी हुईं। महिला थाना प्रभारी ने बताया कि देवर-भाभी परसौनी थाने के मदनपुर वार्ड नंबर-5 के रहने वाले हैं। संतोष सहनी पिता चंद्र सहनी के बड़े भाई की एक साल पूर्व बिजली करंट से मौत हो गई। पांच साल पूर्व शादी हुई थी।


उसको सालभर का एक पुत्र है। मौत के बाद देवर अपनी भौजाई रंजीता देवी के पति-पत्नी के जैसा रहने लगा। रंजीता का मायका नेपाल के बेलवा जबदी गांव में है। वह बिंदेश्वर सहनी की पुत्री है। इस शादी के लिए ससुराल के साथ उसके मायके वाले भी तैयार थे। मगर, संतोष इनकार कर रहा था। मामला थाने पहुंचा तो हमने दोनों से बातचीत करके समझौता करा दिया।


न्यूज डेस्क







0 Response to "थाने में देवर ने अपनी भाभी की मांग भर रचाई शादी"

टिप्पणी पोस्ट करें

आप अपना सुझाव यहाँ लिखे!

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article