-->
केसरिया में जम कर बरसे नीतीश कुमार विरोधियों पर

केसरिया में जम कर बरसे नीतीश कुमार विरोधियों पर

केसरिया में जम कर बरसे नीतीश कुमार विरोधियों पर

केसरिया (Kesariya): (संसू)  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केसरिया के जेडीयू प्रत्याशी शालिनी मिश्रा को जिताने की अपील की। नीतीश कुमार ने अपने संबोधन में कहा कि यहां की प्रत्याशी जीवन भर यहां के लोगों की सेवा करेगी। उन्होंने कहा कि बिहार को हम लागातार आगे ले जाने की कोशिश कर रहे हैं.केंद्र सरकार भी भरपूर सहयोग कर रही है। पहले बिहार का क्या हाल था,15 साल काम करने का मिला अवसर,पति-पत्नी राज में क्या हुआ? पहले शाम होते ही लोग घर में दुबक जाते थे,जंगलराज था,नरसंहार की घटनायें घटती थी लोगों का अपहरण होता था।


सीएम नीतीश ने कहा कि पहले कारोबारियों को बिहार छोड़कर भागना पड़ा था। डॉक्टरों का अपहरण होता था लिहाजा कई बड़े डॉक्टर बिहार से पलायन कर गये थे। हमलोग जब सरकार में आये तो अपराध पर नियंत्रण किया। 


सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि  हमने भ्रष्टाचार को बंद किया।पहले सिर्फ भ्रष्टाचार होते थे,जनता के पैसे को लूटा जाता था। 


उन्होंने कहा कि अपराध के मामले में बिहार 23 वें पायदान पर है।कुछ लोग ऐसे होते हैं जो इधर-उधर करते हैं। पहले किसी का सम्मान था क्य़ा,महिलाओं की इज्जत थी ? हमलोगों ने महिलाओं को पंचायतों में आरक्षण दिया। आज हर क्षेत्र में महिलायें सशक्त हो रही हैं। छात्राओं को पढ़ाने के लिए साइकिल-पोशाक योजना लागू किया। 


आज हाईस्कूल में छात्र से अधिक छात्रायें हैं। विरोधियों पर अटैक करते हुए सीएम नीतीश ने कहा कि आज तो बहुत लोग भड़काने में लगे रहते हैं। लोगों को भ्रमित करने में लगे हैं हमे उससे कोई मतलब नहीं,हम काम में विश्वास करते हैं। पहले कार्यकाल में जितना काम किया उससे अधिक दूसरे कार्यकाल में किया,सबसे अधिक काम इस कार्यकाल में किये हैं। 


इस मौके पर जदयू के पुर्व विधायक मोहम्मद ओबैदुल्लाह, पुर्व मंत्री विरेन्द्र कुशवाहा भाजपा नेता विजय कुमार जायसवाल जदयू जिलाध्यक्ष भुवन पटेल, भाजपा मंडल अध्यक्ष शम्भु महतो, भाजपा विधान पार्षद बब्लु गुप्ता, इम्तियाज अहमद खान, पूर्व मुखिया गुड्डू खान, जदयू नेता बशंत कुशवाहा, इत्यादि उपस्थित थे।


केसरिया से दीनानाथ पाठक की रिपोर्ट





0 Response to "केसरिया में जम कर बरसे नीतीश कुमार विरोधियों पर"

टिप्पणी पोस्ट करें

आप अपना सुझाव यहाँ लिखे!

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article