-->
राजद के व्यवसाय प्रकोष्ठ के महासचिव पवन कुमार सर्राफ ने राजद छोड़ भाजपा की ली सदस्यता

राजद के व्यवसाय प्रकोष्ठ के महासचिव पवन कुमार सर्राफ ने राजद छोड़ भाजपा की ली सदस्यता

Pawan Sarraf join BJP Motihari

चकिया(Chakia): चकिया भारतीय जनता पार्टी के कार्यालय पर कार्यकर्ताओं की एक अहम बैठक हुई। बैठक में बिहार के निवर्तमान कला एवं संस्कृति मंत्री प्रमोद कुमार व भाजपा जिला अध्यक्ष प्रकाश अस्थाना भी शामिल हुए।

बैठक की अध्यक्षता राजेंद्र सिंह ने की। बैठक में राजद के व्यवसाय प्रकोष्ठ के महासचिव एवं चकिया नगर पंचायत वार्ड संख्या चार के वार्ड सदस्य पवन सर्राफ ने अपने समर्थकों के साथ भाजपा में शामिल हुए। साथ ही उन्होंने राजद पर आरोप लगाया कि राजद का नीति हीं गलत है। पैसा लेकर टिकट बेचती है और कार्यकर्ताओं का कोई मान सम्मान नहीं करती है। हम पन्द्रह वर्षों से पार्टी के कार्यकर्ता के रूप में काम किया । खून और पसीना से पार्टी को खींचने का काम किया था।पार्टी को सींचता कार्यकर्ता है और समय आने पर पार्टी के लोग टिकट को बेच देते हैं।

वही मौके पर वर्तमान विधायक श्यामबाबू यादव ने कहा कि पवन सर्राफ के आने से चकिया नगर में भाजपा को बहुत मजबूती मिली है खासकर पवन सर्राफ का युवाओं में गहरी पैठ है।

वही बैठक को कला एवं संस्कृति मंत्री एवं जिला अध्यक्ष ने भी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया साथ ही जीत का अहम मूल मंत्र की जानकारी भी दी। कला एवं संस्कृति मंत्री प्रमोद कुमार ने  बताया कि  पूर्वी चंपारण में बारह  विधानसभा मैं  हमने सात विधानसभा के नॉमिनेशन में गया  और वहां की आम जनता के  अनुसार सातों जगह पर  एनडीए के उम्मीदवार भारी जीत हासिल करेंगे। बिहार में 200 से अधिक सीटों पर एनडीए गठबंधन की जीत होगी और फिर से हमारे एनडीए के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बनेंगे और बिहार के विकास में चार चांद लगेगी।

साथ ही उन्होंने कार्यकर्ताओं से 21 अक्टूबर को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का कार्यक्रम में अधिक से अधिक लोगो को जुटाने की अपील की ।

मौके पर मथुरा प्रसाद, श्यामा तोदी, जदयू के कविंद्र कुशवाहा, कन्हैया सिंह, अरुण मौर्य, राधेश्याम प्रसाद, अजय सिंह, रोहित सिंह,नीरज यादव के साथ सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे।

चकिया से अमितेश कुमार रवि की रिपोर्ट




0 Response to "राजद के व्यवसाय प्रकोष्ठ के महासचिव पवन कुमार सर्राफ ने राजद छोड़ भाजपा की ली सदस्यता"

टिप्पणी पोस्ट करें

आप अपना सुझाव यहाँ लिखे!

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article