-->
कृषि अधिनियम बिल के विरोध में विपक्षी पार्टियों ने बनाई मानव श्रृंखला

कृषि अधिनियम बिल के विरोध में विपक्षी पार्टियों ने बनाई मानव श्रृंखला

Human chain set up in support of agitation against farmers' agricultural bill
घोड़ासहन (Ghoda sahan): केंद्र सरकार द्वारा लायी गयी कृषि अधिनियम बिल के विरोध में महागठबंधन एवं उसके घटक दलों के पार्टियों द्वारा शहर के भगत सिंह चौक से लेकर गाँधी चौक तक मानव श्रृंखला लगाकर सरकार से कृषि अधिनियम बिल को रद्द करने की मांग की,जिसमे जन अधिकार पार्टी (लोक) का समर्थन भी घोड़ासहन में देखने को मिला।

किसान बिल को लेकर जाप के प्रदेश सचिव सह ढाका विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी अभिजीत सिंह ने मानव श्रृंखला के पश्चात पत्रकारों से बात करते हुए कहा की दो माह से देश के किसान कड़ाके की ठंड में कृषि बिल को रद्द करने की मांग को लेकर शांतिपूर्ण आंदोलन कर रहे है लेकिन सरकार द्वारा किसानों के मांग को मानने के बजाय उनके आंदोलन को समाप्त करवाने के पीछे पड़ी हुई है।

श्री सिंह ने कहा कि एक तरफ सरकार किसानों के ऊपर जबरदस्ती गलत काननू थोप रही है वही वर्षों पुरानी रीगा चीनी मिल को बंद कर दी गयी है जिससे साबित होती है कि केंद्र और बिहार की एनडीए सरकार किसान विरोधी है। उन्होंने आगे कहा कि जाप सुप्रीमो पप्पू यादव जो सबसे पहले कृषि अधिनियम बिल का विरोध मजबूती से करते आ रहे है वही रिगा चीनी मिल को बंद किये जाने के विरोध में कल रीगा में एक जनसभा को सम्बोधित कर किसान विरोधी सरकार के खिलाफ आंदोलन का शंखनाद करेंगे।

मानव श्रृंखला में राजद के महंत विनोद दास,युवा राजद के अमित यादव,मुनचुन यादव,सत्यप्रकाश यादव,कांग्रेस के प्रखंड अधयक्ष बृजमोहन सिंह, बनकटवा प्रखंड अध्यक्ष अशोक सिंह,माकपा नेता अब्दुल सलाम,पूर्व मुखिया सह भाकपा माले ऐनुल हक़,भाकपा नेता पवन सिंह,जाप छात्र संघ के जिलाध्यक्ष आकाश सिंह,प्रखंड प्रमुख नागेंद्र सिंह यादव सहित अन्य पार्टियों ने सैकड़ो कार्यकताओ ने मानव श्रृंखला का समर्थन किया।।

न्यूज़ डेस्क

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article