-->
चकिया में प्रथम दिन इंटरमीडिएट परीक्षा कदाचार मुक्त परीक्षा हुई सम्पन्न

चकिया में प्रथम दिन इंटरमीडिएट परीक्षा कदाचार मुक्त परीक्षा हुई सम्पन्न

Intermediate examination malpractices free exam concluded in Chakia

***चकिया में प्रथम दिन दोनों पालियों में 1943 विद्यार्थियों में से 18 हुए अनुपस्थित

***अनुमंडल के 09केंद्रों में चकिया में आठ परीक्षा केंद्र है जबकि मेहसी में एक परीक्षा केंद्र है।

***परीक्षा को देखते हुए अनुमंडल पदाधिकारी के निर्देश पर चकिया में प्रवेश के सभी मुख्य मार्गों पर बरैककेटिंग लगाई गई है।

चकिया (Chakia): बिहार विद्यालय परीक्षा समिति पटना के तत्वधान में आयोजित इंटरमीडिएट परीक्षा के प्रथम दिन सोमवार को शहर के 8 परीक्षा केंद्रों पर कदाचार मुक्त व  शांतिपूर्ण माहौल में समपन्न हुयी।परीक्षा दो पालियों में ली गई तथा  प्रथम पाली में भौतिक विज्ञान के कुल 420 में चार परीक्षार्थी  अनुपस्थित रहे, जबकि द्वितीय पाली में कला संकाय के तहत विषय राजनीति शास्त्र के कुल 1523 में चौदह अनुपस्थित रहे। 

इस बाबत लेवाना पब्लिक स्कूल के केंद्राधिक्षक मो अतीकुर रहमान ने बताया कि प्रथम पाली में 127 जबकि द्वितीय पाली में 324 में तीन अनुपस्थित रहे। वहीं एसआरएपी कॉलेज के केंद्रधिक्षक उमेश कुमार सिंह ने बताया कि प्रथम पाली में 10 जबकि द्वितीय पाली में 179 में एक अनुपस्थित रहे। वहीं  बीएएपी प्रवेशिका विधालय के  केंद्राधिक्षका रजनी कुमारी ने बताया कि प्रथम पाली में 69 में तीन अनुपस्थित रहे वही दूसरी पाली में 244 में दो अनुपस्थित रहे। बीएलएस हाई स्कूल के केंद्रधिक्षक मृगेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि प्रथम पाली में 39 तथा द्वितीय पाली में 211में एक अनुपस्थित रहे।

वहीं मध्य विद्यालय चकिया( बालक ) के केंद्रधिक्षक अमरेंद्र कुमार ने बताया कि प्रथम पाली में कुल 39 परीक्षार्थियों में एक  अनुपस्थित रहे,जबकि दूसरी पाली में 92 परीक्षार्थियों ने परीक्षा में शामिल हुए। एमएसबीएस के केंद्रिधीक्षक रविंद्र कुमार ने बताया कि प्रथम पाली में 25 जबकि द्वितीय पाली में 60 मे एक अनुपस्थित थे।

साथ ही डीपीटीएस इंटर कॉलेज के केंद्राधिक्षक मो मुस्तफा ने बताया कि प्रथम पाली में 81 तथा द्वितीय पाली में 152 में दो अनुपस्थित रहे। वहीं चंद्रशील स्कूल परीक्षा केंद्र के केंद्राधिक्षिका सुनीता कुमारी ने बताया कि प्रथम पाली में 30 तथा द्वितीय पाली में 261 में चार अनुपस्थित रहे, जबकि 257 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए। 

वहीं परीक्षा शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न कराने को लेकर प्रशासन की ओर से चाक-चौबंद प्रबंध किया गया था। परीक्षार्थियों को भीड़ भाड़ से बचाने के लिए शहर के कई प्रवेश द्वार पर बरैककेटिंग के साथ साथ निर्धारित समय अवधि तक छोटी बड़ी वाहनों के प्रवेश वर्जित किया गया था। 

वहीं परीक्षा के  मुख्य आब्जर्वर सह डीसीएलआर  शंकर शरण ने बताया कि परीक्षा के प्रथम दिन शांतिपूर्ण व कदाचार मुक्त माहौल में सम्पन्न हुई इसके लिए सभी परीक्षा केंद्रों पर स्थायी मजिस्ट्रेट के अलावा पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था साथ साथ कोविड 19 गाईड लाईन का सख्ती से पालन के अलावा परीक्षार्थी हित की सारी सुविधाएं मुहैया करायी गयी थी।

चकिया से अमितेश कुमार रवि की रिपोर्ट

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article